Himachal Pradesh History GK MCQ Test 81-100

Himachal Pradesh History GK MCQ Test 81-100

Himachal Pradesh History GK MCQ Test 81-100. यहाँ आप हिमाचल प्रदेश के इतिहास के बारे में अपने नॉलेज को Test कर सकते है। यह 20 questions की MCQ है।

#1. हिमाचल में 1778 में किसने सुजानपुर टीरा नामक स्थान की नींव रखी थी?

#2. हिमाचल के "पांगणा" नामक स्थान पर 765 ई० में एक राज्य की नींव रखी गई थी, जो बाद में किस नाम से जाना गया?

#3. अंग्रेजों द्वारा क्योंथल और पटियाला के शासकों से समझौता कर कब शिमला पर अधिकार किया गया था?

#4. हिमाचल के कोटखाई-कोटगढ़ को ब्रिटिश भारत का भाग कब बनाया गया था?

#5. 1948 ई० में जब 'भागल' रियासत को हिमाचल प्रदेश में मिलाया गया था, उस समय वहां का शासक कौन था?

#6. हिमाचल का कौन-सा राज्य 697 ई० से पूर्व तक सांढा, बांढ़ा, मलांढा और झण्डा नामक चार ठाकुरों में विभक्त था?

#7. हिमालय क्षेत्र में बौद्ध धर्म के प्रचार के लिए राजा अशोक द्वारा भेजे गये भिक्षु दल का नेता कौन था?

#8. गुलेर रियासत के अन्तिम राजा रघुनाथ सिंह का शासन-काल बताइए

#9. हिमाचल की 'कुल्लू रियासत' किस वर्ष अंग्रेजी साम्राज्य का एक भाग थी?

#10. हिमाचल की 'सुकेत' रियासत का अन्तिम राजा कौन था, जिसने 'प्रिन्स ऑफ वेल्स अनाथ आश्रम' की स्थापना भी की थी?

#11. हिमाचल में त्रिगर्त-कांगड़ा का संस्थापक कौन था?

#12. हिमाचल की मण्डी व सुकेत रियासतें किस वर्ष प्रत्यक्ष रूप से अंग्रेजी साम्राज्य के अधीन आ गई थीं?

#13. किस मुगल शासक ने कुल्लू के राजा "जगतसिंह" को "राजा" की उपाधि से अलंकृत किया था?

#14. प्टॉलेमी नामक यूनानी इतिहासकार ने त्रिगर्त को किस नाम से सम्बोधित किया था?

#15. हिमाचल में जसवान राज्य की स्थापना किसने की थी?

#16. मुगल शासक जहांगीर ने नूरपुर के राजा जगतसिंह की सहायता से कांगड़ा के दुर्ग पर कब अधिकार किया था?

#17. हिमाचल के किस राजा ने नूरपुर राज्य की राजधानी ‘पठानकोट' से 'घमेरी' स्थानांतरित की थी?

#18. सुप्रसिद्ध राजा संसार चन्द जो पहाड़ी क्षेत्र में विशाल हिन्दू साम्राज्य स्थापित करना चाहता था, कहां का शासक था?

#19. महमूद गजनवी ने कांगड़ा के किले और मन्दिर पर कब आक्रमण किया था?

#20. कुटलहर रियासत का अन्तिम शासक कौन था?

Finish

Results

Well Done! You Passed the Quiz.

You Failed! You need to improve you GK.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *